2 दिन से भूखा था मालती देवी का परिवार, एजाज़ खान फरिश्ता बनकर पहुंचे, और फिर जो हुआ बयान नही किया जा सकता

कल एक कॉल बार बार आरही थी कि कुछ परिवार हैं उनके पास खाने को कुछ नही है और ना ही खाना बनाने के लिए राशन है, मैं घर से राशन लेकर निकला उनके लिए,एक जगह रुक कर दीपक नाम के ठेले वाले से कुछ फल लेकर गाड़ी में बैठा ही था।

 

कि ये महिला रुआंसी होकर बताती है की खाने को कुछ नही है आप सबकी मदद करते हो क्या मेरी मदद करोगे,मैं फ़ौरन गाड़ी से उतरा और उन्हें राशन किट दी इसके बाद इन्होंने कहा की कुछ पैसे भी मिल जाते तो मैंने फ़ौरन पर्स निकाला और पैसे भी दिए। मैं गाड़ी में बैठ ही रहा था की देखा रोते हुए दुआएं दे रही हैं ये…उनके ख़ुशी के आंसुओं ने मुझे बहुत सुकून दिया जो बयान नही किया जा सकता।
इनका धर्म जानना चाहते होंगे ना आप?
तो उनके माथे का तिलक देख लीजिए।

ये एक्टर एजाज़ खान की कल की आपबीती है, जबकि उन्हें समुदाय विशेष विरोधी बताकर कई बार लोगों ने जेल भेजने की मांग की है, वास्तव में एज़ाज़ खान अगर सरकार के खिलाफ बोलते हैं तो इसे विशेष समुदाय का अपमान बताकर कुछ राजनितिक दल भुनाने लगते हैं। लेकिन एजाज़ खान समय समय पर इनलोगों का ऐसे काम करके मुंह बंद करते रहते हैं। हंमे ये तरीका बहुत पसंद आया एजाज़ खान, बहुत खूब। वेल डन।

Leave a Reply

Your email address will not be published.