बड़ी ख़बर – अमेज़ॉन ने निकाली 20 हजार नोकरियां, घर बैठे कमा सकेंगे पैसे, ऐसे करें आवेदन

कोरोना महामारी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है। प्राइवेट सेक्टर भी लॉकडाउन के प्रभाव से अछूत नहीं रहा, जिस वजह से देश में लाखों लोगों का रोजगार छिन गया। अब दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन इंडिया ने बेरोजगारों को एक राहत भरी खबर दी है।

जिसके तहत कंपनी ने बड़े पैमाने पर लोगों को रोजगार देने का फैसला किया है। ये भर्तियां देश के अलग-अलग शहरों में जल्द की जाएंगी। अमेजन इंडिया के मुताबिक भारत समेत अन्य देशों में अगले कुछ महीनों में कई त्योहार और छुट्टियां पड़ेंगी। ऐसे में उन्हें उम्मीद है कि साइट पर कस्टमर ट्रैफिक तेजी से बढ़ेगा। ग्राहकों को बेहतर ऑनलाइन शॉपिंग की सुविधा मिले, इसके लिए 20 हजार अस्थायी कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी।

ये नियुक्तियां कस्टमर सर्विस डिपार्टमेंट में होंगी यानी की अमेजन इंडिया के कॉल सेंटर में। अमेजन के मुताबिक उन्होंने वर्चुअल कस्टमर सर्विस प्रोग्राम के तहत भर्ती करने की योजना बनाई है, जिस वजह से कोरोना महामारी के चलते कर्मचारी घर बैठे (Work From Home) काम कर सकते हैं। ये भर्तियां इंदौर, भोपाल, नोएडा, कोलकाता, जयपुर, हैदराबाद, पुणे, कोयम्बटूर, चंडीगढ़, मैंगलुरु और लखनऊ में होंगी।

कंपनी के मुताबिक कर्मचारियों को ग्राहकों की शॉपिंग में मदद करनी होगी। जिसके तहत उन्हें मेल, सोशल मीडिया, चैट और फोन के जरिए संवाद करना होगा। जिस वजह से इन पोस्ट की योग्यता 12वीं पास ही रखी गई है। वहीं जो उम्मीदवार इन पोस्ट के लिए अप्लाई करेंगे, उन्हें इंग्लिश, हिंदी, तमिल, कन्नड़ या तेलुगू में से एक भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

अमेजन अधिकारियों के मुताबिक अगर अस्थायी पोस्ट पर नियुक्त कोई कर्मचारी अच्छा प्रदर्शन करता है, तो उसे स्थायी कर दिया जाएगा, लेकिन ये फैसला साल के अंत में होगा। उन्होंने कहा कि कंपनी का मकसद मौजूदा हालात को देखते हुए उम्मीदवारों को जॉब सिक्योरिटी देना है। इसके साथ ही लॉकडाउन में बेरोजगार हुए युवाओं को भी इन भर्तियों से लाभ मिलेगा। इसके अलावा कंपनी 2025 तक टेक्नोलॉजी, इन्फ्रास्ट्रक्चर समेत कई चीजों में निवेश करेगी। जिससे 10 लाख नई नौकरियां मिलेंगी।

नई दिल्ली: चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैल चुका है। जिस वजह से ग्लोबल इकोनॉमी को भारी नुकसान पहुंचा है। भारत ही इससे अछूता नहीं है, यहां भी करोड़ों लोग कोरोना वायरस की वजह से बेरोजगार हो चुके हैं। कोरोना महामारी को देखते हुए जहां ज्यादातर कंपनियां छंटनी कर रही हैं, तो वहीं ई-कॉमर्स स्‍टार्टअप कंपनी डीलशेयर (Dealshare) ने हजारों नौकरियां देने की योजना बनाई है।

डीलशेयर के मुताबिक कंपनी देश के 25 बड़े शहरों में लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाएगी। जिसमें राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक के जिले भी शामिल हैं। कंपनी ने दिसंबर तक 5000 लोगों को नौकरी पर रखने का लक्ष्य रखा है। जिसमें गोदाम, डिलीवरी और तकनीकी सेगमेंट से जुड़ी नियुक्तियां की जाएंगी। इसमें 3000 हजार भर्तियों को तीन महीने के अंदर पूरा कर लिया जाएगा। कंपनी की योजना लॉकडाउन में बेरोजगार हो चुके युवकों को राहत देने की है।

कंपनी के चीफ बिजेनस ऑफिसर (CBO) एस. मेद्दा के मुताबिक कंपनी का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। जिस वजह से अब तक उनके 20 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर हो चुके हैं। ऐसे में उन्हें ज्यादा कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी। जिस वजह से साल के अंत तक कंपनी ने 5000 लोगों की भर्ती की योजना बनाई है। इसके साथ ही कंपनी 100 शहरों में अपनी पहुंच बनाने की योजना पर भी काम कर रही है। कंपनी ने इसके लिए 400 निर्माताओं से डील कर ली है। जिसे भी दिसंबर तक 1000 करने का लक्ष्य रखा गया है।

मेद्दा के मुताबिक कंपनी हर महीने 25 फीसदी की रफ्तार से आगे बढ़ रही है। जिस वजह से अगले दो-तीन महीने उसके लिए काफी अहम हैं। कोरोना वायरस की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था पटरी से उतर चुकी है। जिस वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में लोकल प्रोडक्ट को बढ़ावा देने की अपील की थी। डीलशेयर भी इस दिशा में काम कर रही है। जिसके लिए स्थानीय उत्पादों को लगातार प्रोत्साहित किया जा रहा है, ताकी स्थानीय लोगों को ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। कंपनी ने जल्द ही रोजाना 25 हजार ऑडर्स की डिलीवरी करने का भी लक्ष्य रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.