JNU मामले में बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने की वीसी को ह’टाने की मांग, कहा- रवैया निं’दनी’य है और..

देश में एनआरसी और ना’गरि’कता सं’शो’धन का’नून को लेकर चल रहे वि’वा’द के साथ अब जेएनयू में हुई हिं’सा पर विपक्षी पार्टियों ने मोदी सरकार को पूरी तरह से घेरा हुआ है। लेकिन इसी बीच भारतीय जनता पार्टी के कई नेता भी इस कानून पर वि’रो’ध जाहिर कर चुके हैं।

अब खबर सामने आ रही है कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने इस हफ्ते दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिं’सा मामले में मोदी सरकार से वीसी जगदीश कुमार को हटाने की मांग की है। गौरतलब है कि, गुरुवार को ही मंत्रालय ने कहा है कि वीसी को ह’टाना समस्या का स’माधा’न नहीं है। जेएनयू के छात्र भी वीसी को हटाने की मांग कर रहे है।

जेएनयू में हुई हिं’सा को लेकर बीजेपी नेता भी खुलकर वि’रो’ध कर रहे हैं। इस मामले में बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि ऐसी खबरें हैं कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने दो बार वाइस चांसलर को सलाह दी थी कि वह यूनिवर्सिटी में बढ़ी हुई फीस के मुद्दे को हल करने के लिए कुछ उचित कदम उठाते हुए मुद्दे को हल करने वाले फॉर्मूले को लागू करें। उन्हें शिक्षकों और छात्रों से बात करने की भी सलाह दी गई थी।’

बीजेपी के दिग्गज नेता ने कहा है कि यह चौं’का’ने वाली बात है कि सरकार के प्रस्ताव को लागू नहीं करने के लिए वीसी अ’डि’ग हैं। यह रवैया निं’दनी’य है और मेरी राय में ऐसे वीसी को पद पर बने रहने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।’

आपको बता दें कि इससे पहले भी मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गुरुवार को कहा था कि जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के कुलपति एम जगदीश कुमार को हटाना समाधान नहीं है। गौरतलब है कि जेएनयू में न’काब’पोश ह’म’ला’वरों द्वारा की गई मा’रपी’ट के बाद वीसी जगदीश कुमार को देशभर से आ’लोच’ना का सामना करना पड़ रहा है। उधर यूनिवर्सिटी में हुए इस ह’म’ले के वि’रो’ध में छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.