नगमा और इसरत ने किया स’मलैं’गि’क विवाह, पति-पत्नी बन पोहुँची पु’लिस थाने और फिर…

(“खबर न्यूज 18 हिंदी से ली गई है)

भारत में भी अब स’मलैं’गिक विवाह का चलन बढ़ने लगा है. अब तक यह देश के बड़े शहरों तक ही सीमित था लेकिन अब यह छोटे शहरों में भी पां’व पसार रहा है. ताजा मामला बिहार के बेतिया का है जहां पुलिस इस जोड़े को देखकर है’रान रह गई है. दरअसल ये दोनों पुलिस से अपनी सु’र’क्षा की गु’हार लगाने के लिए गए थे. इस दौरान इन दोनों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने जालंधर के न्यालय में वि’वाह कर लिया है. दोनों ने यह भी कहा कि हम एक दूसरे के बि’ना नहीं रह सकते हैं ।

इधर घर वाले इस रिश्ते को मानने से इंकार कर रहे हैं. जिसके बाद पुलिस ने इस मामले की पड़ताल करनी शुरू की तो वे सबसे पहले अपने आप को लड़की बता रही लड़की के घर पर गई जहां लड़की के पिता ने कहा कि अपनी बेटी से किसी भी तरह का रि’श्ता रखने से इं’कार कर दिया. इसके बाद पुलिस इस प्रे’मी यु’गल को पति के घऱ पर भेज दिया ।

इस पूरे मामले को लेकर बेतिया के रहने वाले इ’सरत के पिता ने कहा कि हम लोग पहले जालंधर में रहते थे. वहीं पड़ोस में ब’गहा के रा’मनगर की रहने वाली न’गमा खा’तून भी रहती थी और दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे जिसके बाद इन दोनों ने शादी कर ली. उन्होंने यह भी कहा कि घरवालों ने इन दोनों को बहुत समझाया लेकिन ये दोनों एक दू’सरे के प्रति जी’ने म’रने को तैयार थे ।

इस पूरे प्रकरण को लेकर नगर थानाध्यक्ष राकेश कुमार भाष्कर ने बताया कि न:गमा और उसकी पत्नी इ’सरत को रा’मनगर स्थित उसके घऱ पर पुलिस की सु’रक्षा में भेज दिया है. अब जो बात नि’कलकर सामने आ रही है उसमें बताया जा रहा है कि पति यानी की न’गमा के घरवाले अपनी बेटी की पत्नी इ’सरत को अपने घर की बहू मानते हैं या नहीं ।

इस पूरे घटना को लेकर इ’लाके में स’नस’नी फैली हुई है. हर कोई सी रि’श्ते की बात कर रहा है. ऐसे में लोग कह रहे हैं कि यह गलत हुआ है. हालंकि कोर्ट ने इस रिश्ते को मंजूरी दे दी है लेकिन अभी इसे सा’माजिक ध’रातल पर आने में बहुत समय लगेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.