बड़ी खबर–शाहीन बाग की औरतों का मोदी के लिए बड़ा ऐलान-23 फरवरी में हम–

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मोहम्मद अली पार्क में धरना दे रही महिलाओं का मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय ने गुरुवार को हौसला बढ़ाया। बोले, सीएए भेदभाव वाला कानून है और एनआरसी से सभी को खतरा है। यह सिर्फ मुस्लिमों के लिए दिक्कत नहीं है। बताया कि आजादी के रणबांकुरों के आदर्शों को बनाए रखना संवैधानिक कर्तव्य है।

इसके पहले उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वे 23 फरवरी से दो मार्च तक दिल्ली से असम तक वाहन यात्रा निकालेंगे। इसके साथ ही दो मार्च को असम के ग्वालपाड़ा स्थित डिटेंशन सेंटर का घेराव करेंगे। गुरुवार रात को संदीप पांडेय के मोहम्मद अली पार्क पहुंचते ही पुलिस बल भी आ गया। महिला प्रशासनिक अधिकारी मंच पर जाकर बैठ गईं।


पांडेय ने पहले सीएए और एनआरसी के बारे में बताया, फिर इससे होने वाले नुकसान के बारे में बताया। उदाहरण असम का दिया, बोले – वहां 19 लाख में 14 लाख हिंदू हैं। सरकार के दमनकारी रवैये की आलोचना की। अधिकारियों के वहां रहने पर सवाल उठाया। इस पर महिला प्रशासनिक अधिकारी बोलीं, कि आप की तरह हम भी समझाने के लिए ही आए हैं।

वैलेंटाइन के मौके पर शाहीन बाग के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कुछ अनोखे ही अंदाज में वैलेंटाइन डे विश किया। प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री को वैलेंटाइन डे का कार्ड देकर उसमें लिखा कि ‘मोदी तुम कब आओगे’। कार्ड में प्रधानमंत्री से शाहीन बाग आकर वैलेंटाइन डे मनाने और अपना सरप्राइज गिफ्ट लेने की बात की गई थी।

तय कार्यक्रम के मुताबिक गुरुवार शाम को शाहीन बाग की दादियों ने हजारों लोगों की मौजूदगी में प्रधानमंत्री को दिया जाने वाला सरप्राइज गिफ्ट को खोला, जिसमें एक टेडी बीयर मौजूद था। इसके बाद मंच से संदेश दिया गया कि भारत ही हमारा वैलेंटाइन है और हम अपने देश को हमेशा प्यार करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.