इतनी सुं’दर तो नहीं हो’ कि..शिकायत करने गई युवती का पुलिस अधिकारी पर आरोप

( यह खबर टाइम्स नाव हिंदी से ली गई है जिसे हम यँहा हैडिंग के अलावा हूबहू कापी कर रहे हैं )

कानपुर: यूपी के कानपुर में काकादेव पुलिस स्टेशन में तैनात एक पुलिस अधिकारी पर 16 साल की एक ल’ड़’की ने छे’ड़छा’ड़ की शि’कायत द’र्ज कराने के लिए उसे परे’शान करने का आ’रोप लगाया है। कि’शोरी ने संवाददाताओं को बताया कि पुलिस ने उसकी शि’कायत द’र्ज करने के ब’जाय कहा कि वह “इ’तनी सुं’दर नहीं है कि कोई उसे परे’शान करे”।’

पी’ड़िता ना’बालिग ल’ड़की अपने माता-पिता के नि’धन के बाद कानपुर के काकादो प’ड़ोस में अपने नाना के साथ रह रही है, 15 जून को एक स्थानीय गुं’डे ने अपने सा’थियों के साथ मिलकर उसके घर में घु’सकर उससे छे’ड़छा’ड़ की। उसने यह भी कहा कि उस पर श’राब डा’लने के बाद गुं’डे उसके क’प’ड़े फा’ड़ डा’ले, स्थानीय लोगों ने उसे बचाया, जो उसकी ची’खें सु’नकर उसके घर पहुंचे ।

ड्यूटी पर मौजूद पुलिस अधिकारी ने बताया कि मैं इतनी खू’बसूरत नहीं हूं कि कोई मुझे परे’शा’न करे ।

बाद में, वह शिकायत दर्ज करने के लिए, काकादेओ पुलिस स्टेशन गई, जहां पुलिस अधिकारी ने कथित तौर पर उसे बताया कि वह इतनी सुं’दर तो नहीं है कि कि कोई उसे छे’ड़े। द टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, मुझे एक औपचारिक शिकायत दर्ज करने में मदद करने के ब’जाय, ड्यूटी पर मौजूद पुलिस अधिकारी ने बताया कि मैं इतनी खू’बसूरत नहीं हूं कि कोई मुझे प’रेशा’न करे ।

कानपुर नगर पुलिस ने पुलिस अधिकारी के खि’लाफ लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि वे “अ’सत्य और नि’राधार” हैं। पुलिस ने कहा कि ल’ड़की की शि’कायत के आ’धार पर भारतीय दं’ड सं’हिता की धारा 323, 504 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया। स’नी भा’रद्वाज और प्रान भारद्वाज के रूप में पहचाने गए दोनों आ’रोपि’यों को गि’रफ्तार कर जेल भेज दिया गया ।

कानपुर में ही ऐसा एक और मामला भी आया था सामने
एक अन्य घटना में, एक 16 वर्षी’य ल’ड़’की को क:थित तौ’र पर उसके मकान मालिक के भतीजे के खि’लाफ प्राथमिकी दर्ज करने के एवज में पूछा गया था। यह घटना पिछले महीने कानपुर के गोविंद नगर पुलिस स्टेशन में हुई थी। ल’ड़’की अपने परिवार के साथ गोविंद नगर इलाके में किराए के मकान में रहती है। उन्होंने उसके मकान मालिक के भतीजे के खि’लाफ शि’कायत दर्ज कराने की कोशिश की थी, जिसमें ना’बालि’ग ल’ड़’की से छे’ड़छा’ड़ करने का आ’रो’प लगाया था, इसके अलावा उन्हें ज’बर’न घर से भी नि’काला था। ल’ड़’की की मां ने आ’रो’प लगाया कि इंस्पेक्टर गोविंद नगर ने उसकी शि’कायत द’र्ज करने के लिए उसे प’रेशा’न किया था ।

(खबर टाइम्स नाव हिंदी से साभार )

Leave a Reply

Your email address will not be published.