गोरखपुर की रहने वाली इफ्फत अमीन ने कर दिया ऐसा कमाल के मुखमंत्री योगी आदित्यनाथ भी बधाई देने से खुद को नही रोक पाए

भारतीय वैज्ञानिक ने दुनिया का सबसे चमकीला पदार्थ बनाने में सफलता हासील की है। यह खोज इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि इसकी मदद से दो वॉट की एलईडी में 20 वॉट तक कि रोशनी मिल सकती है।उत्तरप्रदेश के गोरखपुर शहर के दीनदयाल उपाध्यक्ष विश्वविद्यालय में रसायन शास्त्र की शोधार्थी इफ्फ्ट अमीन ने पांच साल में ऐसा शोध पूरा किया है।

जिसके कॉप्लेक्स की चमक क्षमता 91.9 फीसदी है। अब तक बने चमकीले कोप्लेंक्सकी क्षमता 80 फीसदी तक है।
गोरखपुर की इस बेटी ने प्रदेश और देश का नाम रोशन किया है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने इस कामयाबी पर ट्वीट करके बधाई देते हुए लिखा है कि बहुत बधाई इफ्फत आमीन। आपने गोरखपुर और उत्तरप्रदेश का नाम रोशन करने के साथ ही देश के सभी युवाओं के लिए एक प्रेरणा बन गई हो।

आज के इस दौर में लड़कियों ने हर क्षेत्र में बाजी मारी है और अपना नाम, पिता, राज्य का नाम रोशन कर रही है। इफ्फत ने सनस्लोषित कोप्लेंक्स का आईआईटी मद्रास और चेन्नई, सीडी आरआई लखनऊ और जापान के क्यूशू इंस्टिट्यूट की लैब में परीक्षण कराया गया है। वहां पर इनकी चमक क्षमता 91.9 तक पाई गई है।

इतना ही नही इफ्फत के चार शोद्ग पत्र अंतराष्ट्रीय जनर्ल्स में प्रकाशित हुए है। इंग्लैंड स्थित रॉयल सोसाइटी ऑफ केमेस्ट्री कई देशों से प्रकाशित होने वाला एलवाईजर और जर्नल टेलर एंड फ्रांसिस शामिल है। शोध के परीक्षण के बाद उन्हें गुरु गोरक्षनाथ शोध मेडल मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.