अपना काम ईमानदारी से करना देशभक्ति है, ट्विटर पर किसी को गा’ली देना नहीं- इरफान

हाल ही में देशभक्ति को लेकर उठाए जा रहे सवालों का जवाब देते हुए पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान ने ये बातें कहीं. अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की ह’त्या! के बाद दुनियाभर में चले ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ मुहिम के मद्देनज़र  ही जून की शुरु’आत में उन्होंने ट्विटर पर लिखा था, ‘नस्लवाद सिर्फ चमड़ी के रंग तक सीमित नहीं है.

सिर्फ इसलिए कि आप किसी विशेष धर्म और जाति के हैं, तो आपको किसी सोसायटी में घर ना खरीदने दिया जाना भी नस्लवाद है.’ इरफान के इस ट्वीट के बाद कई लोग उनके समर्थन में आए तो कई लोगों ने उन्हें ट्रोल करते हुए कहा, ‘देश के लिए थोड़ा शुक्रगुज़ार हों. आपको प्रसिद्धि, प्यार और शोहरत देश ने ही दी है.’ इन्हीं ट्रोलर्स ने उनकी देशभक्ति को लेकर भी लोगों ने सवाल उठाए.

इरफान ने एक और ट्वीट किया, ‘वो अपनी बात एक भारतीय होने के नाते  और भारत के लिए ही रखते हैं और मैं रुकूंगां नहीं.’

दिप्रिंट से हुए इंटरव्यू में इरफान ने सोशल मीडिया, देशभक्ति, राजनीति और क्रिकेट से जुड़े कई मसलों पर अपनी बात रखी.

‘ट्विटर पर गा’ली देना देशभक्ति नहीं है. अगर आप इस देश की तरक्की के लिए छोटा सा भी सहयोग कर रहे हैं तो आप देशभक्त हैं. जो भी काम करें ईमानदारी से करें, वही देशभक्ति है.’ ये कहना है भारत के ऑलराउंडर क्रिकेटर इरफान पठान का.

Leave a Reply

Your email address will not be published.