इरफान पठान ने रोहित शर्मा को कह दी ये बड़ी बात,की रोहित का

आप आज रोहित शर्मा का नाम लेंगे तो क्रिकेट पंडित क्या कहेंगे? बेस्ट टाइमर ऑफ क्रिकेट बॉल, रो-हिट, हिट मैन. या ऐसा ही कुछ. लेकिन 2007 में डेब्यू करने वाले रोहित के लिए चीजें 2011-12 तक इतनी आसान नहीं थी. उन पर ठप्पा लग गया था कि टैलेंटेड तो बहुत हैं, लेकिन आउटपुट नहीं है.

यहां से रोहित का करिअर कैसे पलटी खाया, ये बताया है इरफान पठान ने.इरफान और रोहित वर्ल्ड टी20-2007 जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे. अगले ही साल ऑस्ट्रेलिया जाकर सीबी सीरीज जीतने वाली टीम में भी दोनों खिलाड़ी थे.इरफन पठान ने एक शो में कहा

2011 वर्ल्ड कप की टीम में ना चुना जाना रोहित के लिए बहुत बड़ा झटका था. उससे वो काफी निराश हुए थे. वहां से उनका करिअर पलट गया. उन्होंने काफी ज़्यादा मेहनत करनी शुरू की. जिसका असर 2012 से ही दिखने भी लगा. इस बीच मुंबई इंडियंस की कप्तानी मिलने से भी रोहित में ज़िम्मेदारी आई. उन्होंने वहां भी अच्छा प्रदर्शन किया.”

मुझे लगता है कि कई लोग हैं, जो जब रोहित जैसे किसी बेहद आसानी से खेलने वाले खिलाड़ी को देखते हैं, तो काफी ग़लत समझते हैं. लोग कहते हैं कि ये थोड़ी और मेहनत क्यों नहीं कर लेता. यही बात वसीम जाफर के लिए भी थी. ऐसे खिलाड़ियों को जब भी खेलते, भागते देखिए तो वे काफी रिलैक्स नज़र आते हैं. यहीं से लोग सोच लेते हैं कि वे मेहनत नहीं कर रहे,


जबकि असल में वो इसके लिए काफी मेहनत कर रहे होते हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.