दिल्ली पुलिस ने की जे’एन’यू हिं’सा मामले में 9 छात्रों की पहचान, नो’टिस जारी कर कहा..

बीते दिनों दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्रों पर हुए ह’म’ले के बाद से इस मामले की जांच प’ड़ता’ल शुरू हो चुकी है। अब खबर सामने आ रही है कि जेएनयू में घुसकर ह’म’ला करने वाले न’काब’पो’श ब’दमा’शों की पहचान हो गई है।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने कुछ न’काब’पो’श ह’मला’वरों की पहचान की है। रविवार रात जेएनयू में हुई हिं’सा में जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई छात्र बुरी तरह से घा’यल हुए थे। बताया जा रहा है कि दिल्ली पु’लि’स द्वारा जे’एन’यू कैंपस में ला’ठी डं’डे चलाने वालों और घरों में तो’ड़फो’ड़ करने वालों को गि’रफ्ता’र नहीं किया गया है।

गौरतलब है कि जेएनयू में हिं’सा के खि’ला’फ देश की कई यूनिवर्सिटी में वि’रो’ध प्रदर्शन हो रहा है। इसको लेकर सियासत भी हो रही है। इस घटना को लेकर विपक्षी दलों ने मोदी सरकार को घे’रने की कोशिश की है। जेएनयू में हुई हिं’सा के खिलाफ छात्रों ने गुरुवार को जेएनयू कैंपस से मंडी हाउस और जंतर मंतर तक वि’रो’ध मार्च निकाला है।

जेएनयू के छात्रों ने राष्ट्रपति भवन की ओर भी कूच करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने उनको रो’क दिया। आपको बता दें कि गुरुवार को विरोध मार्च के दौरान जेएनयू के छात्रों और पुलिस में झड़प भी देखने को मिली थी। इस दौरान भी एक छात्र घा’यल हो गया था। जेएनयू हिंसा और फीस बढ़ने के खि’लाफ छात्र लगातार वि’रो’ध प्र’दर्श’न कर रहे हैं और जेएनयू के वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार को ह’टाने की मांग कर रहे हैं।

गौरतलब है कि विपक्षी दाल के नेताओं के साथ अब बीजेपी के कई नेताओं ने भी जेएनयू हिंसा के बाद वीसी को ह’टाने की मांग की है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने इस हफ्ते दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिं’सा मामले में मोदी सरकार से वीसी जगदीश कुमार को हटाने की मांग की है। गौरतलब है कि, गुरुवार को ही मंत्रालय ने कहा है कि वीसी को ह’टाना समस्या का स’माधा’न नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.