हजारों परिवारों को राशन बाँट चुकी है फरमान अहमद और उनकी MEEM टीम, देखिये तस्वीरें

“दिल्ली में एक NGO है, नाम है MEEM (मूवमेंट फॉर अज़्यूकेशन एंड एम्पावरमेंट फॉर मासेज़), सैंकड़ो लोगों की टीम है, काम है लोगों की मदद करना, जैसे भी हो सके मदद करते हैं, कुछ दिनों पहले दिल्ली में भड़की हिंसा से वहां के लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हुए।

कर्फ्यू का माहौल था, और बच्चे भूखे थे। किसी ने इन्हें फोन किया, यहाँ पर लोग भूखे हैं दुकानें बंद है राशन खत्म हो चूका है, इन लोगों ने फौरन घर घर जाकर लोगो को राशन बाँटा, वो भी बगैर किसी का मज़हब देखे। लेकिन अब सोशल मीडिया पर मैंने इनकी बहुत सारी तस्वीरें देखीं, मास्क लगाये, खुदको ढके हुए ये बोरियों में कुछ लादे हर शहर में राशन बांट रहे हैं, हजारो तस्वीरें सोशल मीडिया पर तैर रही हैं।

मीम के कुछ सदस्य

तो हमने सोचा की इनसे बात की जाए, तो हमने सीधे MEEM टीम के प्रबंधक सय्यद फरमान अहमद से बात की, उन्होंने बताया कि, हम लोग लॉकडाउन होने से लेकर दिनांक 9 अप्रैल 2020 तक देशभर के हजारों परिवारों तक मदद पहुंचा चुके हैं, फरमान अहमद ने कहा जहाँ से जैसे भी फोन आ रहा है हम वहां मदद पहुंचाने की हर संभव कोशशि कर रहे हैं, हमारा एक ही उद्देश्य है कि एक भी आदमी देश में भूखा न सोये”

मीम टीम अबतक इतने शहरों में मदद पहुंचा चुकी है और लगातार मदद का प्रयास जारी है-

Shaheed nagar – 853
Pappu Colony – 124
Loni, Ghaziabad- 220
Meerut, Uttar Pradesh – 200
Farrukhaabaad, UP -200
Delhi – 500
Panipat, Haryana- 507
Lalsot, Rajsthan – 50
Nagpur, Maharashtra- 60
Ghaziabad city – 150
Total family – 2864 family

 

Cooked Food distribution-
Delhi – 3000
Panipat -1000
Nagpur- 200
Keral- 200
Jaipur- 300
Total – 4700
Total human- 17905 people
Grand Total – 20769

मीम टीम के ही एक कार्यकर्ता है सय्यद आतिफ ज़ैदी, जो की घर घर जाकर लोगो को राशन मुहैय्या करा रहे हैं, इनसे हमने मुलाक़ात की, उन्होंने बताया – “हमलोग पहले ही दिन से लोगों की जितना हो सकता है मदद कर रहे हैं, लेकिन हालात काफी बुरे हैं, लोगों के उदास चेहरे देखे नहीं जाते, सरकार ने मदद करने का एलान तो किया है लेकिन अभी तक इसको अमली जामा नहीं पहनाया गया है। मैं लोगो से यही कहना चाहूंगा कि लोकड़ाउन के पालन के साथ अपने पड़ोसी का ख्याल अवश्य करें, अगर कोई व्यक्ति रात को भूखा सोया तो ये हम सब का फेलियर होगा।”

हम हमारे पाठकों से अनुरोध करते है कि कृपया किसी भी तरह का पैनिक न लें, घर में बैठे, अफरा तफरी से अव्यवस्था फैलेगी, अफवाहों पर ध्यान न दें, खासतौर पर ऐसी अफवाहें जो आपको किसी धर्म विशेष का फानो दुश्मन बना दें, भाईचारे से ही हमलोग कोरोना को हरा सकते हैं, कृपया MEEM जैसा काम कीजिये मीम बनिये, MEEM से सम्पर्क करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.