मुहर्रम और गणेश चतुर्थी पे योगी आदित्यनाथ का आया बड़ा फैसला

यूपी में तेजी से कोरोना वायरस का कहर बढ़ रहा है. सरकार की लाख कोशिशों के बाद भी कोरोना वायरस का सं;क्रम’ण थमने का नाम नहीं ले रहा हैं. इसी के चलते अब योगी सरकार लगातार सख्त कदम उठाने लगी है. इसी कड़ी में योगी सरकार ने जन्माष्टमी की तरह ही गणेश चतुर्थी और मुहर्रम के मौकों पर भी कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था बनाने रखने के आदेश जारी कर दिया हैं.इसके साथ ही उन्होंने यह भी साफ कर दिया हैं कि इन मौकों पर प्रदेश भर में कहीं भी कोई पंडाल, जुलूस या शोभायात्रा निकालने की कोई अनुमति नहीं दी जाएगी. उन्होंने आला-अधिकारीयों को निर्देश देते हुए कहा है कि सूबे में कोरोना की गाइडलाइन का पूरी सख्ती से पालन कराया जाए.

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने आदेश जारी करते हुए कहा कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की तरह ही आने वाले पर्व गणेश चतुर्थी के मौके पर कहीं भी पूजा पंडाल में कोई भी मूर्ति स्थापित नहीं की जाए और न ही कहीं शोभायात्रा निकालने की अनुमति दी जाए.इसी तरह मुहर्रम के मौके पर भी किसी प्रकार के जुलूस व ताजिया निकालने की अनुमति न दी जाए. अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रशासन और पुलिस के अधिकारी सभी स्तरों पर पीस कमेटी की बैठकें करें और कानून व्यवस्था और कोरोना गाइडलाइन को बनाए रखने के लिए धर्म गुरुओं से भी पूरा सहयोग लें.

इसके साथ ही संवे’दनशील और कंटेनमेंट जोन में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए और सघन चेकिंग हो. इसके साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि किसी भी धार्मिक स्थल और परिसर पर भीड़ एकत्रित नहीं हो पाए.इसके साथ ही विशेष रूप से सोशल मीडिया की कड़ी मानीटरिंग करने और माहौल बिगाड़ने की साजिश करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश भी जारी किये गए हैं.

वहीं गृह विभाग के निर्देशों के बाद इस मामले को लेकर सभी जिलों के डीएम ने भी आदेश जारी कर दिये है. जिन पर साफ तौर पर कहा गया है कि आने वाले सभी त्योहारों पर लोग अपने-अपने घरों में पूजा-उपासना करें. किसी भी तरह का कोई भी आयोजन सार्वजनिक स्थानों पर नहीं होगा.
आदेश में कहा गया है कि कोरोना के सं’क्रम’ण से धार्मिक स्थलों के बचाव के लिए जरूरी है कि पांच से अधिक व्यक्ति एक समय में इकट्ठा न हों. साथ ही फेस कवर और फिजिकल डिस्टेसिंग के मानकों का कड़ाई से पालन किया जाए. यह आदेश स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम पर भी लागू रहेगें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.