पश्चिम बंगाल की विश्वभारती यूनिवर्सिटी में फिर दिखी ABVP की गुं’डा’ग’र्दी, कैंपस में घुसकर किया..

दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिं’सा के बाद अब पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में मौजूद विश्व भारती यूनिवर्सिटी से भी ऐसी ही खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि विश्व भारती विश्वविद्यालय में भी छोटे पैमाने पर जेएनयू जैसी हिं’सक घ’टना हुई है।

जहां ए’बी’वी’पी के समर्थकों ने चे’ह’रा ढ’क कर वामपंथी छात्रों पर ह’म’ला किया। बताया जा रहा है कि इस ह’म’ले में 2 छात्र गंभीर रूप से घा’य’ल हुए हैं जो कि इस वक्त अस्पताल में हैं। इस मामले में तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की जमकर आ’लो’चना की है हालांकि ए’बी’वी’पी ने इस घटना में उनका हाथ होने से इनकार कर दिया है।

इस मामले में इलाके के शांति निकेतन थाने में इस घटना के बारे में शि’काय’त दर्ज की गई है। लेकिन अब तक पु’लि’स द्वारा किसी को भी गि’रफ़्ता’र नहीं किया गया है। इस ह’म’ले के बाद कैंपस में सुरक्षा और सुरक्षाकर्मियों की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं।

आपको बता दें कि विश्वभारती यूनिवर्सिटी में बीते सप्ताह भाजपा सांसद स्वपन दासगुप्ता के कार्यक्रम के बा’य’कॉट और उनको चार घंटे से ज़्यादा समय तक एक क’म’रे में बं’द रखने के बाद से ही परिसर में एबीवीपी और वा’मपं’थी छा’त्रों में त’ना’व चल रहा था। बुधवार की घटना को भी उसी का नतीजा बताया जा रहा है।

इस मामले में पुलिस ने यह बताया है कि बुधवार रात को विश्वभारती यूनिवर्सिटी में कुछ बा’हरी लोग मुंह पर न’का’ब पहनकर आए और परिसर में स्थित विद्या भवन छा’त्रा’वास में घुसकर छा’त्रों पर ह’म’ला कर दिया। जिसमें स्वप्निल मुखर्जी और फाल्गुनी खान नाम के दो छात्रों को गं’भी’र चो’टें आई हैं।

सीपीएम से जुड़े एसएफआई और आल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन (एडसो) ने इस हमले के लिए एबी’वी’पी को ज़ि’म्मे’दार ठहराया है। इन दोनों संगठनों ने कहा कि कल की घटना स्वपन दासगुप्ता के घे’रा’व की घ’ट’ना का ब’दला लेने के लिए की गई है। छात्रों का आरोप है कि एबीवीपी के सदस्य बीते कुछ दिनों से लगातार परिसर में आ रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.