प्रवीण तोगड़िया ने दी मोदी-शाह को चे’ताव’नी, कहा- अगर अगर NRC लागू हुआ तो 14 करोड़ हि’न्दू..

ना’गरिक’ता सं’शो’धन कानून के खि’ला’फ विपक्षी दलों के साथ साथ भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दलों ने भी वि’रो’ध जाहिर किया है। इस मामले में अब अंतर्राष्टीय हि’न्दू परिषद के अध्यक्ष और हि’न्दूवा’दी नेता डा. प्रवीण तोगड़िया का भी बड़ा ब’यान सामने आया था। उन्होंने नागरिकता सं’शो’धन का’नून और एनआरसी को लेकर मोदी सरकार पर ह’म’ला बोला है।

हाल ही में मेरठ के कैंट क्षेत्र स्थित शुभम अस्पताल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया कि असम में ए’नआर’सी लागू करने की प्रक्रिया से 45 लाख बांग्लादेशी अब भारतीय बन गए, जबकि 15 लाख भारतीय विदेशी बन गए। इस बात पर छह सितंबर को असम में प्रदर्शन भी किया गया था। जिसमें ये मुद्दा उठाया गया कि अगर यही ए’नआर’सी की प्रक्रिया देशभर में लागू हुई तो 14 करोड़ हि’न्दू विदेशी बन जाएंगे।

ना’गरि’कता सं’शो’धन कानून-सीएए का समर्थन किया, लेकिन पूछा कि क’श्मी’री हि’न्दु’ओं के लिए अब तक क्या किया गया? कहा कि सिर्फ मु’सलमा’नों का रजिस्टर बनना चाहिए। जनसंख्या नि’यंत्रण कानून तत्काल लागू हो। आपको बता दें कि हिं’दूवा’दी नेता प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कभी का’रसेव’क नहीं रहे, वह खुद कभी अ’यो’ध्या गए नहीं।

उन्होंने कभी कोई आं’दोल’न नहीं किया, फिर रा’म मं’दि’र में उन्हें क्यों श्रेय दिया जाए। रा’म मंदिर के पक्ष में फै’स’ला देशभर के लोगों की भावनाएं और कोर्ट की कृपा से मिला है। इस मामले पर मोदी-शाह ने कुछ नहीं किया, संसद में कानून नहीं बनाया गया। लेकिन इस सब में भाजपा के कार्यकर्ता जरूर समर्पित रहे हैं।

इसके अलावा प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार पर रोजगार को लेकर ह’म’ला बोला। कहा कि 71 फीसद बे’रोजगा’री की वजह से हर छोटे मुद्दे पर भी हिं’स’क प्रदर्शन हो रहे हैं। महंगी शिक्षा में बिलकुल भी सुधार नहीं हुआ। जेएनयू में न’का’बपो’शों ने घुसकर ग्रामीण क्षेत्र से पढऩे गए छात्रों को पी’टा। कहा कि पु’लि’स की अस’फ’लता से वो अंदर घुसे। इस वक़्त देशभर हर तरफ एनआरसी और सीएए के खि’ला’फ जमकर विरो’ध प्रद’र्श’न किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.