राहत इंदौरी का आख़री समय का वीडियो हुआ वायरल, मौत की वजह बता कर

देश के मशहूर चाहे डॉ राहत इंदौरी का आज शाम 5:00 बजे अरविंदो अस्पताल इंदौर में निध”न हो गया लेकिन मीडिया में यह खबर चलाई जा रही है कि उनका निध”न को”रोना की वजह से हुआ है लेकिन ऐसा नहीं है उन्हें को’रोना पॉजि’टिव तो थे लेकिन उनकी मौ’त हा’र्ट अटै”क से हुई है.

लेकिन मीडिया में लगातार खबरें चलाई जा रही है कि डॉ राहत इंदौरी साहब की मौत कोरोना की वजह से हुई है लेकिन इस तरह की कोई भी खबर अभी अस्पताल प्रशासन की तरफ से सामने नहीं आई है उनकी मौ’त हार्ड अ’टैक की वजह से हुई है.

देश का मशहूर शायर राहत इंदौरी का आज 70 वर्ष की उम्र में इंदौर के एक अस्पताल में नि’धन हो गया यह जानकारी उनके पुत्र सतलाज राहत में दिए अभी 1 दिन पहले ही राहत इंदौरी को’रोना संक्र’मित पाए गए थे.

कोरोना संक्रमित होने के बाद राहत इंदौरी का इलाज अरबिंदो अस्पताल में चल रहा था। यहां के डॉक्टर उनकी लगातार निगरानी कर रहे थे.

अरविंदो अस्पताल के डायरेक्टर विनोद भंडारी ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि वह लगातार अस्पताल में कह रहे थे कि मैं अब ठीक नहीं हो पाऊंगा.

उसके बाद डॉक्टरों की टीम उन्हें लगातार समझा रही थी। लेकिन सोमवार से ही वह बार-बार इस बात को दोहरा रहा था.

इसमें डॉक्टरों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी थी डॉ राहत इंदौरी इंदौर के ही अस्पताल में भर्ती हुए थे और यह जानकारी उन्होंने ट्वीट  कर कर दी थी

कि वह को’रोना पॉजिटि’व है ऐसा बताया जा रहा है कि डॉ राहत इंदौरी की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है इसकी जानकारी अस्पताल प्रशासन और उनके पुत्र सतलाज राहत से मिली है.

राहत इंदौरी कोरो”ना वाय”रस पॉजि”टिव इंदौर के  ही अस्पताल  में कराया गया था भर्ती मशहूर शायर राहत इंदौरी का दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार को निध’न हो गया.

वे कोरो”ना वायर”स से भी संक्र’मित थे, जिसके उपचार के लिए उन्हें मध्य प्रदेश के इंदौर में 10 अगस्त की देर रात अरविंदो अस्तपाल में भर्ती कराया गया था.

राहत इंदौरी के बेटे सतलज ने इस बात की जानकारी दी थी, बाद में खुद भी राहत इंदौरी ने इस बारे में ट्वीट किया था. राहत इंदौरी ने खुद भी ट्विटर पर इस बात की जानकारी दी थी.

उन्होंने लिखा था, ‘कोविड के शुरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है. ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं, दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं.

एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी ख़ैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.