भीगी किताबे देखकर रोती लड़की की वीडियो देखकर, छलके सोनू सूद के आंसू, फिर करी इतनी बड़ी मदद की सोच भी नही सकते

शाहरुख, आमिर, अक्षय, बॉबी देओल, कंगना, स्वरा भाष्कर और तमाम बॉलीवुड सितारे लगातार सुर्ख़ियो में बने हुए हैं, लेकिन सभी किसी न किसी विवाद को लेकर ही चर्चा में है, लेकिन एकमात्र सोनू सूद नाम का अकेला बन्दा ऐसा है जो नेक काम करके चर्चा में है, दी लल्लनटोप की रिपोर्ट पढिये-

 

सोनू सूद. लॉकडाउन में लोगों की इतनी मदद की कि लोग उन्हें लॉकडाउन का सुपरहीरो बुलाने लगे. कई लोगों को घर भेजा, तो किसी के घर ट्रैक्टर भेज दिया. इस बार उन्होंने एक आदिवासी बच्ची की मदद की है.

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में एक इलाका है भैरमगढ़. यहां कोमला गांव में रहती है अंजली कुडियम. 12वीं पास है और अब प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही है. सोशल मीडिया पर अंजली का एक वीडियो वायरल है. इसमें वो रोती हुई दिख रही है.

 

दरअसल, 15-16 अगस्त की रात को आए बाढ़ के पानी से अंजली का घर तहस-नहस हो गया. बांस की टोकरी में रखी अंजली की किताबें भीगकर खराब हो गईं. वीडियो में अंजली किताबों को सहेजते हुए रोती दिख रही है.

देर रात करीब 3.30 बजे कोमला गांव में अचानक पानी भरने लगा. अंजली ने अपने परिवार के साथ पांच किलोमीटर दूर मिनगाछल गांव में शरण ली. अंजली के पिता सोमलु कुडियम किसान हैं, उनके मुताबिक, बाढ़ से उनकी आधी फसल बर्बाद हो गई.

वीडियो वायरल होते-होते सोनू सूद तक पहुंची तो उन्होंने मदद का वादा कर दिया. उनके ट्वीट के बाद जिला प्रशासन और स्थानीय विधायक अंजली की मदद के लिए सामने आये हैं.

कुछ हफ्ते पहले भी सोनू सूद ने एक महिला की मदद की थी. हैदराबाद की मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाली 26 साल की शारदा को कोविड-19 और लॉकडाउन के चलते अपनी नौकरी गंवानी पड़ी थी. अपने गुज़र-बसर के लिए उसे सब्ज़ी बेचना पड़ रहा था. ये खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई और सोनू सूद तक पहुंची. फिर सोनू सूद ने उस महिला की मदद की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.