सुदर्शन न्यूज़ के खिलाफ मामला गर’माया जा रहा है देश के बहुत जगहों से हुए शि’कायत दर्ज

नई दिल्ली: जामिया मिलिया इस्लामिया के पूर्व छात्रों ने शुक्रवार को नोएडा स्थित सुदर्शन टीवी के प्रधान सुरेश चव्हाणके के खिलाफ शिकायत दर्ज करके तत्काल कार्यवाही की मांग की है।यह शिकायत जामिया नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई। शिकायत में उन्होंने कहा कि सुरेश चव्हाणके द्वारा किया गया ट्वीट देश की अखंडता के लिए खतरना’क है।

वह अपने कार्यक्रम के द्वारा लोगों को धर्म के आधार पर विभाजित करने का प्रयास कर रहे हैं।जामिया मिलिया इस्लामिया के पीआरओ अहमद अज़ीम ने कहा कि सुदर्शन टीवी ना केवल विश्वविद्यालय और एक विशेष समुदाय की छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहा है बल्कि यूपीएससी पर भी सवाल उठा रहा है।

आपको बता दें की गुरुवार को सुरेश चव्हाणके ने अपने ट्वीट के माध्यम से शुक्रवार को प्रसारित होने वाले एक कार्यक्रम का विवरण दिया था जिसमें उन्होंने यूपीएससी में मुस्लिम समुदाय के छात्रों के पास होने पर सवाल उठाया और जामिया के छात्रों को “जामिया के जिहादियों” के रूप में संदर्भित किया।

साथ में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आरएसएस को टैग करते हुए प्रोमो भी ट्वीट किया था।शुक्रवार को दिन में दिल्ली के उच्च न्यायालय ने सुदर्शन टीवी की आगामी शो के खिलाफ एक याचिका पर नोटिस जारी हुए स्थाई रूप से शो के प्रसारण पर रोक लगा दी।

इसी के संदर्भ में जामिया की वीसी नजमा अख्तर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आरसीए के 30 छात्रों को इस बार यूपीएससी में चुना गया है जिसमें से 16 मुस्लिम और 14 हिंदू हैं। क्योंकि वह सभी जिहादी है इसलिए 16 मुस्लिम जिहादी और 14 हिंदू जिहादी हैं। हमें ऐसी खबरें फैलाने वालों को ज़्यादा महत्व नहीं देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.