कश्मी,र मामले में तुर्की के तय्य,ब एर्डो,गन का बड़ा फैशला, भा,रत ने कहा हमारे

भारत ने तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब इरदुगान के जम्मू कश्मीर के संबंध में भारत विरोधी प्रलाप पर कड़ा विरोध जताया है. विदेश मंत्रालय ने सचिव (पश्चिम) विकास स्वरूप ने तुर्की के राजदूत को विदेश मंत्रालय में तलब कर आगाह किया है कि इरदुगान के ऐसे बयानों से भारत और तुर्की के संबंधों पर बुरा असर पड़ेगा.

भारत ने इरदुगान की पाकिस्तान यात्रा के दौरान दिए गए बयानों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह बयान कूटनीतिक आचरण के खिलाफ है. यह बयान इतिहास को सही रूप में प्रस्तुत नहीं करता तथा अतीत की घट,नाओं को विकृत रूप में प्रस्तुत करता है.तुर्की के इस काम से भारत खुस नही है

भारत ने इरदुगान के बयान को उसके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप का एक और उदाहरण बताते हुए कहा कि इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. भारत ने तुर्की द्वारा सीमापार से किए जा रहे आतंकवाद को न्याय संगत ठहराने के तुर्की के प्रयासों की तीखी आलोचना की. भारत ने यह भी चेतावनी दी कि इस घटनाक्रम से द्विपक्षीय संबंधों को पर बहुत बुरा असर पड़ेगा.

उल्लेखनीय है कि इरदुगान ने अपनी हाल की पाकिस्तान यात्रा के दौरान वहां की संसद में अपने संबोधन के दौरान जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन का राग अलापा था. बाद में जारी संयुक्त वक्तव्य में भी जम्मू-कश्मीर के हालात के संबंध में भारत विरोधी बातें कही गई थीं.जिससे तुर्की के राष्ट्पति के काफी विरोध हुआ थातुर्की में मौजूद भारतीय दूतावास द्वारा जारी एडवाइजरी में लिखा गया है,

‘भारत सरकार के पास लगातार तुर्की में यात्रा करने को लेकर सवाल किए जा रहे थे, तुर्की के ताजा हालातों को देखते हुए लोग काफी चिंतित लग रहे हैं. वहीं कश्मीर मामले पर तुर्की द्वारा पाकिस्तान के समर्थन देने के बाद भारत ने अपनी दूरी बरतने का संकेत दिया है.विदेश मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक तुर्की के साथ भारत के रिश्ते पुराने जरुर हैं लेकिन ये इतने गहरे नहीं है

कि भारत अपने मूल सिद्धांत को नुकसान होने दे. दोनो देशों के बीच द्विपक्षीय कारोबार तकरीबन आठ अरब डॉलर का है जो बहुत खास नहीं है.तुर्की के राष्ट्रपति रिजेब तैय्यप अर्दोआन ने हाल ही में अपनी पार्टी की एक बैठक में कथित तौर पर तुर्की को न्यूक्लियर पावर बनाने की इच्छा जाहिर की है. इसके बाद से ही इस बात के कयास लगने लगे हैं कि क्या पाकिस्तान ने तुर्की को परमा,णु तकनीक बेची है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.