बड़ी खबर -वसीम जाफर का द,र्द भरा बयान सुन कर आप भी रह जाएंगे दंग, कह दी बड़ी बात

जयपुर, आइएएनएस। भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वसीम जाफर फर्स्ट क्लास करियर जितना शानदार रहा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वो वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाए। घरेलू क्रिकेट में जाफर का प्रदर्शन हैरान करने वाला था, लेकिन इंटरनेशनल लेवल पर वो अपनी क्षमता साबित कर पाने में असमर्थ रहे।

अब टीम इंडिया के इस पूर्व टेस्ट बल्लेबाज ने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि अगर वो बल्लेबाजी में निरंतर अच्छा प्रदर्शन करते तो भारत के लिए 100 टेस्ट मैच खेलते।वसीम जाफर ने स्पोर्ट्सटाइगर के एक शो ऑफ द फील्ड में कहा कि मैं टीम इंडिया के लिए अपने प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रख पाए।


अगर मैं निरंतर प्रदर्शन करता तो 100 से ज्यादा टेस्ट मैच खेलता। लगातार रन नहीं बना पाने की वजह से ही मुझे टीम से बाहर कर दिया गया। उन्होंने कहा कि मैं इंटरनेशनल स्तर पर किए गए अपने प्रदर्शन से ज्यादा मशहूर अपने फर्स्ट क्लास करियर की वजह से रहा।आपको बता दें कि वसीम जाफर का घरेलू क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन रहा था और उन्होंने 260 फर्स्ट क्लास मैचों में 19,000 से ज्यादा रन बनाए थे।

उनका औसत इन मैचों में 50.67 का था जबकि बेस्ट स्कोर 314 रन था। जबकि उन्होंने भारत के लिए 31 टेस्ट मैच खेले थे जिसमें 34.11 की औसत से 1944 रन बनाए थे। उन्होंने बताया कि साल 2012-213 में मैं टीम में चयन किए जाने के करीब था, लेकिन शिखर धवन का टीम में सेलेक्शन हो गया। कई बार में टीम में जगह बनाने के करीब पहुंचा, लेकिन मुझे जगह नहीं मिल पाई।


मुझे ज्यादा मौके क्यों नहीं मिले इसके बारे में सेलेक्टर्स ही ज्यादा बता सकते हैं, लेकिन मैं बार-बार दरवाजे पर दस्तक देता रहा।वसीम जाफर ने इसी साल क्रिकेट से संन्यास का एलान किया था और वो उत्तराखंड टीम के मुख्य कोच नियुक्त किए गए थे। अब कोच के तौर पर एक नई शुरुआत करने वाले जाफर ने कहा था कि मुझे इसका ज्यादा अनुभव नहीं है, लेकिन मैंने बल्लेबाजी सलाहकार के तौर पर काम किया है। पूरी टीम को साथ लेकर चलना आसान नहीं होता है,
लेकिन मैं अपनी नई चुनौती के लिए पूरी तरह से तैयार हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.