जानिए कौन हैं सैयद जफर इस्लाम, जिन्हें भाजपा ने यूपी से दिया राज्यसभा का टिकट

उत्तर प्रदेश से राज्यसभा की एक सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए बीजेपी ने सैय्यद जफर इस्लाम को अपना उम्मी’दवार बनाया है. समा’जवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह के निधन के बाद खाली हुई राज्य’सभा की इस सीट पर 11 सितंबर को उप’चुनाव होना है.

अमर सिंह का किडनी संबंधी बीमारी के कारण सिंगा’पुर के एक अस्प’ताल में एक अगस्त को निधन हो गया था. जफर इस्लाम मीडिया के लिए जाना पह’चाना चेहरा हैं. टीवी चैनलों पर डिबेट में वह हर रोज बीजेपी का बचाव करते हैं. राज’नीति में आने से पहले जफर इस्लाम एक विदेशी बैंक के लिए काम करते थे और लाखों रुपये का वेतन पाते थे.

मोदी की राजनीति से प्रभा’वित होकर जफर इस्लाम ने बी’जेपी से अपनी राजनी’तिक पारी की शुरुआत की. माना जाता है कि प्रधान’मंत्री नरेंद्र मोदी से जफर इस्लाम के अच्छे ताल्लु’कात हैं.

शायद यही वजह है कि मृदुभा’षी और बेहद शालीन व्य’क्तित्व के धनी जफर इस्लाम को बीजेपी हाईकमान ने मध्य प्रदेश में ‘ऑपरेशन लोटस’ चलाने की जिम्मेदारी दी थी.

सिंधिया को बीजेपी में लाने का मिला इनाम मध्य प्रदेश में कमल’नाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सर’कार को अस्थिर करने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्यो’तिरादित्य सिंधिया को बीजेपी में लाने में इस्लाम की प्रमुख भूमिका थी.

सिंधिया को बीजेपी तक लाने और फिर गृहमंत्री अमित शाह और प्रधा’नमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुं’चाने वाले कोई और नहीं, बल्कि बीजेपी प्रवक्ता जफर इस्लाम हैं.

अब ज़फ़र को बीजेपी ने यूपी राज्य’सभा का उम्मीदवार बनाकर इसी मेहनत का फल दिया है. जफर कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को पहले से जानते रहे हैं.

सिंधिया जब कभी दिल्ली में रहते थे, तो उनसे जफर की मुला’कात अक्सर हो जाया करती थी. लेकिन जफर कई महीनों से ज्योति’रादित्य को बीजेपी में लाने के सिलसिले में उनसे मिल रहे थे.

इसके बाद ज्योति’रादित्य को बीजेपी में लाने की कवायद और मध्य प्रदेश में ‘ऑपरेशन लोटस’ की पटकथा लिखी गई.

इस पूरे ऑपरेशन में बीजेपी की तरफ से सिर्फ लॉजि’स्टिक और अन्य सहायता दी गई. पूरा ऑपरेशन ज्यो’तिरदित्य के मुता’बिक ही चला.

सिंधिया की प्रधा’नमंत्री मोदी से मुलाकात के वक्त भी जफर 7, लोक कल्याण मार्ग पर मौजूद थे. जब गृह’मंत्री अमित शाह सिंधिया को लेकर प्रधान’मंत्री आवास पहुंचे थे तो उस समय भी जफर इस्लाम गृह’मंत्री अमित शाह की गाड़ी में मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.